Home World Flights Hotels Shopping Web Hosting Education Pdf Books Live TV Music TV Kids TV FilmyBaap Travel Contact Us Advertise More From Rclipse

सरकार ने 2017 में डोकलाम विवाद के बाद चीन सीमा पर तैनात सैनिकों से 42 चाइनीज ऐप डिलीट करने को कहा था, उनमें से 38 नई लिस्ट में भी शामिल

2 months ago 5

सरकार ने चीन के 59 ऐप बैन कर दिए हैं। 2017 में डोकलाम विवाद के दौरान रक्षा मंत्रालय ने चीन सीमा पर तैनात सैनिकों और अफसरों को 42 चाइनीज ऐपडिलीट करने के आदेश दिए थे। इन्हें देश की सुरक्षा के लिए खतरा बताया गया था।

रक्षा मंत्रालय ने 24 नवंबर 2017 को एक आदेश जारी किया था। इसमें 42 ऐप्स कीलिस्ट थी। सैनिकों और अफसरों से कहा गया था कि वो फौरान ऑफिशियल और पर्सनल दोनों फोन से ये ऐपडिलीट करें। साथ ही फोन फॉर्मेट भी करें।सोमवार को जिन 59 ऐप्स पर बैन लगाया गया है, उनमें 38 ऐसे हैं जो 2017 में भी थे।

इंटेलिजेंस इनपुट

2017 में जून से अगस्त तक भारत और चीन के बीच डोकलाम विवाद चला था। इस दौरान चीनी ऐप से संबंधित इंटेलिजेंस इनपुट मिला था। इसके बाद यह ऐप डिलीट करने को कहा गया। डोकलाम में चीन सरहद के बेहद नजदीक एक सड़क बना रहा था। भारतीय सैनिकों ने काम रुकवा दिया था।

इसी साल जून की शुरूआत में गृह मंत्रालय ने एक एडवायजरी जारी की थी। इसे रॉ (रिसर्च एंड एनॉलिसिस विंग) और नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (एनटीआरओ) के इनपुट के आधार पर बनाया गया था। जिन ऐप्स को सरकार ने बैन किया है, उनमेंएंटी वायरस और ब्राउजर भी हैं।

2017 में अफसरों और सैनिकों से यह42ऐप्स डिलीट करने को कहा गया था

बीगो लाइव, वी चैट, शेयर इट, ट्रू कॉलर, यूसी न्यूज, यूसी ब्राउसर,ब्यूटी प्लस, न्यूज डॉग, पैरलेल स्पेस, वीवा वीडियो,क्यू क्यू इंटरनेशनल, क्यू क्यू सिक्योरिटी सेंटर, क्यू क्यू लॉन्चर,क्यू क्यू प्लेयर,क्यू क्यू म्यूजिक, क्यू क्यू न्यूजफीड, एप्यूस ब्राउसर, परफेक्ट कॉर्प, वायरस क्लीनर, सीएम ब्राउसर, एमआई कम्युनिटी, डीयू रिकॉर्डर, वॉल्ट हाइड, यूकैंप मेकअप, एमआई स्टोर,कैचे क्लीयर डीयू ऐप स्टूडियो,डीयू क्लीनर, डीयू ब्राउजर, डीयू प्राइवेसी, डीयू बैट्री सेवर, 360 सेक्यूरिटी, क्लीन मास्टर, बैदू ट्रांसलेट, बैदू मैप, वंडर कैमरा, ईएस फाइल एक्सपोलरर, फोटो वंडर, क्यू क्यू मेल,मेल मास्टर,एमआई वीडियो कॉल, सेल्फ सिटी, वी सिंक।

2015 में भी उठाया था कदम

दिसंबर 2015 में रक्षा मंत्रालय ने चीन के हैकर्स से खतरा बताते हुए दिल्ली स्थित साउथ ब्लॉक हेडक्वार्टर में वाय फाय और ब्लू टूथ डिवाइस के इस्तेमाल पर रोक लगाई थी। सिंगापुर की एक कपंनी ने चीनी बग से भारतीय नौसेना के युद्धपोत के साउथ चाइना सी में मूवमेंट और चीन सरहद से जुड़ी जानकारियां लीक होने काखतरा बताया था। चीन के स्मार्टफोन के बढ़ते इस्तेमाल के बीच सेना ने अंदेशा जताया था कि बैन किए गए कई ऐप पहले से फोन पर इंस्टॉल होते हैं। कई बार उन्हें अनइंस्टॉल करना भी मुमकिन नहीं होता।

भारत सरकार ने सोमवार इन 59 ऐप्स को बैन किया

टिकटॉक, शेयरइट, केवई, यूसी ब्राउजर, बैडू मैप, शीईन, क्लैश ऑफ किंग, डीयू बैटरी सेवर, हेलो,लाइकी, यूकैम मेकअप, एमआई कम्युनिटी, सीएम ब्राउजर, वायरस क्लीनर, एपीयूएस ब्राउजर, रोमवी, क्लब फैक्ट्री, न्यूज डॉग, ब्यूटी प्लस, वीचैट, यूसी न्यूज, क्यू क्यू मेल, वीबो, एक्सएंडर, क्यू क्यू म्यूजिक, क्यू क्यू न्यूजफीड, बीगो लाइव, सेल्फी सिटी, मेल मास्टर, पैरलर स्पेस , एमआई वीडियो कॉल-शियॉमी, वीसाइन ईएस फाइल एक्सप्लोरर, वीवा वीडियो ,मीईटू, वीगो वीडियो, न्यू वीडियो स्टेटस , डीयू रिकॉर्डर , वॉलट हाइड, कैचे क्लीयर डीयू ऐप स्टूडियो , डीयू क्लीनर, डीयू ब्राउजर, हगो प्ले विद न्यू फ्रेंड्स, कैम स्कैनर, क्लीन मास्टर चीता मोबाइल, वंडर कैमरा, फोटो वंडर, क्यू क्यू प्लेयर, वी मीट, स्वीट सेल्फी, बैडू ट्रांसलेट, वी मेट , क्यू क्यू इंटरनेशनल, क्यू क्यू सिक्योरिटी सेंटर, क्यू क्यू लॉन्चर, यू वीडियो , वी फ्लाई स्टेटस वीडियो, मोबाइल लिजेंड्स, डीयू प्राइवेसी।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें 2017 में डोकलाम विवाद के बाद रक्षा मंत्रालय ने चीन सीमा पर तैनात अपने सैनिकों और अफसरों से 42 चाइनीज ऐप  डिलीट करने को कहा था। सोमवार को कुल 59 ऐप पर सरकार ने बैन लगा दिया। (प्रतीकात्मक)
Read Entire Article