Home World Flights Hotels Shopping Web Hosting Education Pdf Books Live TV Music TV Kids TV FilmyBaap Travel Contact Us Advertise More From Rclipse

मरने वालों की गिनती 99 हुई, चौथे दिन 12 नई मौत मिलाकर सबसे ज्यादा 75 अकेले तरनतारन जिले में

1 week ago 2

पंजाब में जहरीली शराब का कहर जारी है। रविवार को चौथे दिन तरनतारन में 12 और लोगों की मौत के बाद अब तक मरने वालों की संख्या 99 हो गई है। इस मामले में तरनतारन के एसएसपी ध्रुव दहिया ने एक डीएसपी और दो थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया है। बहरहाल, पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि इन अधिकारियों के नशे के सौदागरों के साथ क्या लिंक है।

जहरीली शराब के सेवन से मौत का पहला मामला गुरुवार को अमृतसर जिले के गांव मुच्छल से आया था। इसके बाद पिछले चार दिन से लगातार चार दिन से इलाके में यह कहर जारी है। शनिवार को तरनतारन में सबसे ज्यादा 44, अमृतसर में एक और बटाला में 3 लोगों की मौत हुई। इन्हें मिलाकर तीन दिन में 87 लोग मारे जा चुके थे। रविवार को तरनतारन में और 12 लोगों की मौत के बाद अब तक यह आंकड़ा 99 हो गया है। इनमें से 75 अकेले तरनतारन जिले में तो अमृतसर में 12 और गुरदासपुर के बटाला में 11 लोगों की मौत हुई है। इस मामले में तरनतारन के एसएसपी ने एक डीएसपी और दो थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया है।

तरनतारन के डीसी कुलवंत सिंह ने बताया कि बुधवार रात से अब तक खौफ का पर्याय बनी इस घटना में सबसे ज्यादा मौतें जिले के सदर और शहरी इलाकों में हुई हैं। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पहले ही इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। इसके लिए एसआईटी भी बनाई गई है, जो पूरे मामले की जांच करेगी। पंजाब सरकार दावा कर रही है कि जहरीली शराब बनाने और सप्लाई करने वाले दोषियों को जल्द ही गिरफ्त में ले लिया जाएगा।

इस पूरे मामले में पंजाब के बॉर्डर रेंज के डीआईजी हरदयाल सिंह मान ने दावा किया है कि जल्द ही आरोपी सलाखों के पीछे होंगे। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार तमाम इलाकों में छापेमारी की जा रही है। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि इन अधिकारियों के नशे के सौदागरों के साथ क्या लिंक हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें जहरीली शराब से मौत के खौफ के चलते तरनतारन सिविल अस्पताल में पहुंचे मृतकों के परिजन। फाइल फोटो
Read Entire Article