Home World Flights Hotels Shopping Web Hosting Education Pdf Books Live TV Music TV Kids TV FilmyBaap Travel Contact Us Advertise More From Rclipse

दावा- फटे दूध से कोरोना से लड़ने की इम्यूनिटी मिलती है, एक्सपर्ट बाेले- कोई सबूत नहीं

1 month ago 6
Ads By Rclipse

क्या वायरल:सोशल मीडिया परदावा किया जा रहा है कि फटा दूध पीने से इम्युनिटी बढ़ती है और ऐसा करना कोरोना से लड़ने के लिए फायदेमंद है।

इंटरनेट पर कुछ वेबसाइट्स के साथ सोशल मीडिया के जरिए इन दिनों ये दावा किया जा रहा है कि फटे दूध का पानी पीने से इम्युनिटी बढ़ाई जा सकती है। ऐसे पैदा हुई इम्यूनिटीकोरोना से लड़ने के लिए काफी है। इस दावे को लोग सही मानकर अन्य लोगों को शेयर कर रहे हैं।

फटे दूध से इम्युनिटी बढ़ने से जुड़े दावे

https://twitter.com/looknewsindia/status/1276597739762020352

https://www.thehealthsite.com/hindi/diet/sour-milk-water-benefits-and-how-to-use-it-in-hindi-phate-hue-doodh-aur-pani-ke-fayde-in-hindi-754208/

फैक्ट चेक पड़ताल

healthsite.com वेबसाइट पर फटे दूध से इम्युनिटी बढ़ने वाली जो खबर सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है। उसकी हैडिंग है - इम्यूनिटी बूस्ट करे फटे हुए दूध का पानी, पढ़ें इसके उपयोग और फायदे। यहां हैडिंग में तो फटे दूध से इम्युनिटी बढ़ने का दावा किया गया है। लेकिन, खबर के अंदर किसी भी साइंटिफिक रिपोर्ट या फिर एक्सपर्ट का हवाला नहीं दिया गया है। कुल मिलाकर एक मिथ के आधार पर ही खबर पब्लिश की गई है। आयुष मंत्रालय ने कोविड-19 के दौर में इम्युनिटी बढ़ाने को लेकर गाइडलाइन जारी की है। दावे की सत्याता जांचने के लिए हमने सबसे पहली इन गाइडलाइंस को पढ़ा। इसमें अधिकतर वही तरीके बताए गए हैं। जिन्हें लोग घर पर ही अपना सकते हैं। यहां इम्युनिटी बढ़ाने के लिए दिन में एक से दो बार हल्दी वाला दूध पीने की सलाह दी गई है। लेकिन, फटा दूध पीने से जुड़ी कोई सलाह नहीं है। (यहां पढ़ें गाइडलाइन)

दावे का सच जांचने के लिए दैनिक भास्कर की फैक्ट चेक टीम ने तीन एक्सपर्ट्स से बात की ।

1. पहलीएक्सपर्टन्यूट्रीशनिस्ट निधि शुक्ला पांडेके अनुसार,फटादूध कैसीन नाम के मिल्क प्रोटीन का सोर्स है। ये एक अच्छा प्री और पोस्ट वर्कआउट ड्रिंक भी होता है। इससे मिलने वाले तत्व इनडायरेक्टली इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं। लेकिन, फटा दूध पीने से सीधे इम्युनिटी बढ़ती है, ये पूरी तरह सिद्ध नहीं है। कोरोना के दौर में अब तक ऐसी कोई रिसर्च नहीं हुई।

2. दूसरे एक्सपर्ट नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद के डॉक्टर हरीष भाकुनी कहते हैं -दूध इम्यून सिस्टम बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है। लेकिन, फटादूध पीने से इम्युनिटी बढ़ने जैसी बात अब तक सिद्ध नहीं हुई है।

3. तीसरी एक्सपर्टआयुर्वेदाचार्यकिरण गुप्ता के अनुसार, फटे हुए दूध का पनीर निकला पानी डाइजेशनऔर लीवर के लिए अच्छा होता है। लेकिन, हमारे अनुभव में अब तक ऐसा कोई केस नहीं आया जिससे पता चले किइम्युनिटी बढ़ाने से इसका सीधे तौर पर कोई कनेक्शन है।

वैक्सीन बनने तक बेहद सावधान रहें

कोविड -19 से दुनिया भर में संक्रमित लोगों की संख्या का आंकड़ा 1 करोड़ होने वाला है। लोग वायरस से डरे हुए हैं। डॉक्टरों, वैज्ञानिकों से लेकर WHO ने स्पष्ट कर दिया है कि इस समय दुनिया के पास कोविड-19 वायरल को ठीक करने कीकोई एक दवा यावैक्सीननहीं है। कोविड-19 से लड़ने के दो प्रमुख औजार हैं। सोशल डिस्टेंसिंग और इम्युनिटी। सोशल डिस्टेंसिंग से संक्रमण फैलने से रोका जा सकता है। और इम्युनिटी से शरीर को संक्रमण से लड़ने लायक बनाया जा सकता है। यही वजह है कि हर व्यक्ति इस समय अपनी इम्युनिटी बढ़ाने के प्रयास में है। हालांकि, इसका फायदा उठाकर कई तत्व इम्युनिटी और कोरोना के इलाज से जुड़े भ्रामक दावे करने में लगे हुए हैं।

निष्कर्ष : फटा दूध पीने के कई फायदे हैं। यह दूध केप्रोटीन कैसीन का अच्छा सोर्स है। लेकिन, इसे पीने से कोरोना से लड़ने वालीइम्युनिटी बढ़ने वाला दावा भ्रामक है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Claims that increase immunity from cracked milk are misleading
Read Entire Article