Home World Flights Hotels Shopping Web Hosting Education Pdf Books Live TV Music TV Kids TV DJ Rajasthani Travel Online Gaming Contact Us Advertise

चार दशक बाद Sunil Gavaskar की उभरी कसक, वेस्टइंडीज से जीतने के बाद भी कप्तानी से हटाया गया

2 days ago 1
Ads By Rclipse

मुंबई : टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्तान और विश्व के महानतम सलामी बल्लेबाजों में से एक सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने चार दशक बाद अपने दर्द को पहली बार साझा किया। उन्होंने कहा कि यह बात उन्हें आज तक समझ में नहीं आई कि 1978-79 में उस समय की दिग्गज टीम वेस्टइंडीज को घरेलू टेस्ट सीरीज में मात देने के बावजूद उन्हें कप्तानी से हटाया क्यों गया। यह वह दौर था, जब क्रिकेट में वेस्टइंडीज (West Indies Cricket Team) की तूती बोलती थी और किसी भी टीम के लिए वेस्टइंडीज को हराना बहुत बड़ी बात होती थी।

वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में बदले कप्तान के साथ उतरेगा इंग्लैंड, Ben Stokes होंगे कप्तान

निजी प्रदर्शन भी था शानदार

1978-79 में छह टेस्ट मैच की सीरीज के लिए वेस्टइंडीज की टीम भारत आई थी। इस सीरीज में भारत की कप्तानी सुनील गावस्कर ने संभाली थी। भारत ने छह मैचों की इस टेस्ट सीरीज (Test Series) में 1-0 की बढ़त बनाई थी। इतना ही नहीं, व्यक्तिगत लिहाज से भी गावस्कर के लिए यह सीरीज काफी शानदार रही थी। उन्होंने इस सीरीज में 700 से ज्यादा रन भी बनाए थे। इसके बावजूद सीरीज के बाद गावस्कर से कप्तानी लेकर एस. वेंकटराघवन (S Venkatraghawan) को टीम का कप्तान बनाया गया था।

बोले, कैरी पैकर जाने का मन बना लिया था

गावस्कर ने एक अंग्रेजी अखबार के कॉलम में यह खुलासा किया। उन्होंने कहा कि उन्हें अभी तक इसका कारण नहीं पता है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि वह उस समय कैरी पैकर वर्ल्ड सीरीज क्रिकेट से जुड़ने को तैयार थे। इस कारण शायद उन्हें हटाया गया था। गावस्कर ने यह भी बताया कि चयन से पहले उन्हें बीसीसीआई (BCCI) के साथ करार करना पड़ा था कि वह किसके लिए वफादार हैं। बता दें कि उस वक्त कैरी पैकर विश्व क्रिकेट में तूफान लेकर आए थे। हर टीम से बागी खिलाड़ी पैकर की वर्ल्ड पैकर सीरीज से जुड़ गए थे। इस कारण हर टीम का संतुलन डगमगा गया था। वेस्टइंडीज को भी काफी झटका लगा था। भारत से भी सुनील गावस्कर के जाने की चर्चा थी। हालांकि कोई भारतीय खिलाड़ी पैकर के साथ गया नहीं था।

टेस्ट सीरीज में Black Lives Matter का लोगो पहनकर उतरेंगे Windies Cricketer

बेदी के लिए अड़ गए थे गावस्कर

गावस्कर ने बताया कि बिशन सिंह बेदी को टीम में रखने के लिए वह चयनकर्ताओं (Indian Sectors) के सामने अड़ गए थे। चयन समिति (Cricket Selection Committee) ने यह फैसला किया था पाकिस्तान सीरीज के तीन मैचों में फ्लॉप होने के बाद वह बेदी को हटा देंगे। उस सीरीज के बाद गावस्कर ही बेदी की जगह कप्तान बनाए गए थे। उसी सीरीज में चयन समिति बेदी को हटाना चाहती थी। उन्होंने कहा कि बेदी अब भी देश के बाएं हाथ के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हैं और इसलिए उन्हें पहले टेस्ट मैच में मौका दिया जाना चाहिए।

Read Entire Article